छत्तीसगढ़

जनसमस्या निवारण शिविर में आम जनता शत प्रतिशत उठाए योजनाओं का लाभ

 मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय के मंशानुरूप जिला प्रशासन द्वारा ग्रामीणों की आवश्यकता एवं समस्याओं के समाधान तथा शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देने के लिए अकलतरा विकासखंड के ग्राम पंचायत कोटगढ़ में आयोजित जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर आयोजित किया गया। इस अवसर पर गुलाब सिंह चंदेल, जिला पंचायत सदस्य  दिलेश्वर साहू, पूर्व जिला पंचायत सदस्य प्रदीप सोनी, कलेक्टर आकाश छिकारा, सहायक कलेक्टर दुर्गा प्रसाद अधिकारी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी गोकुल रावटे, सुमित प्रताप सिंह एवं अन्य जनप्रतिनिधि सहित विभागीय अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे। उपस्थित सभी अतिथियों ने शिविर में विभिन्न विभागों द्वारा लगाए गए स्टॉल का निरीक्षण किया और हितग्राहियों को मिल रहे लाभ के संबंध में जानकारी ली। इस अवसर पर जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों द्वारा पौधरोपण भी किया साथ ही गोद भराई कार्यक्रम में गर्भवती माताओं को सुपोषण किट प्रदान किया गया तथा नन्हे बच्चों का अन्न-प्राशन्न किया गया। कृषि विभाग द्वारा कृषकों को किट, उद्यानिकी विभाग द्वारा पौधा व बीज का वितरण किया गया। जनसमस्या निवारण शिविर में विभिन्न विभागों से संबंधित 177 आवेदन प्राप्त हुए।

कलेक्टर ने शिविर में आम जनता को संबोधित करते हुए कहा कि यहां जनसामान्य की समस्याओं के समाधान तथा शासन की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के प्रति जागरूकता लाने एवं उन्हें लाभान्वित करने के लिए जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन किया गया है। शिविर में विभिन्न विभागों द्वारा शासन की योजनाओं की जानकारी देने तथा योजनाओं से लाभान्वित करने स्टॉल भी लगाए गए हैं। जनसामान्य ऐसे स्थान जहां जनसमस्या निवारण शिविर लगाए जा रहे हैं, वहां जागरूकता के साथ समय निकालकर जरूर पहुंचे। शासन की विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत जनसामान्य को लाभान्वित करने की दिशा में लगातार कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह खुशी की बात है कि बड़ी संख्या में युवा, महिलाएं एवं ग्रामीण शिविर का लाभ लेने पहुंचे हैं। श्रम विभाग की योजनाओं का लाभ जरूर उठाए। उन्होंने कहा कि जिले के विभिन्न ग्रामों में जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन किया जाएगा, जिसकी शुरुआत कोटगढ़ से हो रही है। जनसमस्या निवारण शिविर का सभी नागरिक शतप्रतिशत लाभ उठाएं। इस अवसर पर सहायक कलेक्टर श्री दुर्गा प्रसाद अधिकारी ने कहा कि जन समस्या निवारण शिविर के माध्यम से प्रशासन आपके द्वार पहुंची है। उन्होंने कहा कि आप जो समस्या लेकर आते है उसका समाधान शिविर में ही हो जाएगा, इसलिए सभी शिविर का फायदा लेकर समस्या का निराकरण कराए। कलेक्टर श्री आकाश छिकारा ने इस अवसर पर स्टॉल का अवलोकन किया और सभी अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने राजस्व विभाग के स्टॉल में अवलोकन के दौरान कहा कि नामांकन, सीमांकन एवं बटवारा तथा अन्य राजस्व संबंधी प्रकरणों का समय पर गुणवत्तापूर्ण निराकरण करें। जाति, आय, निवास प्रमाण पत्र समय पर बनाकर देने के निर्देशित किया। कलेक्टर ने कहा कि जल जीवन मिशन अंतर्गत आम जनता को लाभ मिलना चाहिए और पेयजल की उपलब्धता होनी चाहिए।

 

कलेक्टर ने कहा कि जनसामान्य के लिए लगाए जा रहे शिविर में शासन की लोक कल्याणकारी योजनाओं से आम जनता अधिक से अधिक लाभान्वित हो, इसके लिए कार्य करें। उन्होंने गर्भवती माताओं को हरी सब्जी एवं पौष्टिक आहार लेने के लिए कहा। शिशुवती माताओं को पौष्टिक आहार अपने बच्चों को खिलाने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने पशुपालन विभाग को पशुओं को बीमारियों से बचाने के लिए शिविर लगाने और पशुओं का टीकाकरण के लिए कार्ययोजना बनाने के लिए कहा। जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर में राजस्व, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, समाज कल्याण, पशु चिकित्सा, कृषि, उद्यानिकी, मत्स्य, स्वास्थ्य, आयुष विभाग, शिक्षा, महिला एवं बाल विकास, श्रम, लोक निर्माण, लोक स्वास्थ्य, वन, जल संसाधन, जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र, प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री सड़क योजना, बैंकर्स, आबकारी, सहकारिता, आदिम जाति कल्याण, परिवहन, खाद्य, विद्युत एवं रोजगार विभाग सहित विभिन्न विभाग द्वारा स्टॉल लगाकर विभागीय योजनाओं की जानकारी दी गई और पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया।

 

 

Leave Your Comment

Click to reload image